*जामिया के बाद दिल्ली के सीलमपुर में भी बवाल, तीन मेट्रो स्टेशन हुए बंद*


*जामिया इस्लामिया के आसपास और जामिया नगर इलाके में सोमवार को दिनभर तनाव का माहौल रहा। प्रदर्शनकारी सुबह से ही सड़कों पर आ गए और पुलिस कार्रवाई का विरोध जताने लगे। उधर, डीयू में भी प्रदर्शन हुआ और छात्रों व पुलिस में हल्की झड़प हुई। वहीं मंगलवार तड़के हिंसा फैलाने के आरोप में 10 लोगों को गिरफ्तार किया गया है जो छात्र नहीं हैं। आज भी दिल्ली से नोएडा आने जाने वालों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि इस रूट पर कुछ रास्ते बंद कर दिए गए हैं।*

दिल्ली के जाफराबाद में आज सीएए 2019 के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा था कि इसी बीच पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच में झड़प हो गई। एहतियात के तौर पर पुलिस ने 66 फुट रोड जो सीलमपुर से जाफराबाद जाती है उसके दोनों ओर को बंद कर दिया है।

*सीलमपुर में हो रहा विरोध प्रदर्शन*
नागरिकता संशोधन कानून के विरोध* में दिल्ली के सीलमपुर इलाके में भी प्रदर्शन चल रहा है। इसके साथ ही तीन मेट्रो स्टेशनों के निकास और प्रवेश द्वार बंद कर दिए गए हैं।

*सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाकर्ता से हाईकोर्ट जाने के लिए कहा है*
जामिया हिंसा पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए बड़ी बात कही है कि कोई कानून तोड़ता है तो पुलिस क्या कर सकती है। पुलिस को तो एफआईआर दर्ज करनी ही होगी। इसके साथ ही कोर्ट ने याचिकाकर्ताओं को हाईकोर्ट जाने के लिए कहा है। कोर्ट ने कहा है कि विभिन्न स्थानों पर प्रदर्शन हो रहे हैं इसलिए जांच के आदेश नहीं दे सकते।
*दक्षिण-पूर्व दिल्ली के अतिरिक्त डीसीपी कुमार ग्यानेश ने बताया हिंसा सुनियोजित थी*
दक्षिण-पूर्व दिल्ली के अतिरिक्त डीसीपी कुमार ग्यानेश ने जामिया हिंसा पर बड़ा खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि, ‘मैंने खुद अपनी आंखों से देखा था कि कुछ प्रदर्शनकारी कंबल लेकर आए और आंसू गैस के गोले पर उन्हें डाल दिया ताकि उसका प्रभाव कम हो जाए। इससे यह पूरी घटना स्वाभाविक नहीं बल्कि सुनियोजित लगती है। इस मामले में अभी जांच चल रही है।’ कुमार ज्ञानेश ने आगे बताया कि प्रदर्शनकारियों ने हम पर(पुलिसवालों पर) पेट्रोल बम भी फेंके थे, यह सब त्वरित नहीं हो सकता बल्कि यह एक बड़ी साजिश लगती है।
दिल्ली पुलिस ने जारी नया वीडियो
जामिया हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने एक नया वीडियो जारी किया है जिसमें दिल्ली पुलिस के संयुक्त आयुक्त जामिया के छात्रों से शांति कायम रखने और पत्थरबाजी रोकने की अपील करते नजर आ रहे हैं।

*गृहमंत्रालय के सूत्रों ने दी ये जानकारी*
गृहमंत्रालय के सूत्रों के हवाले से* जामिया हिंसा को लेकर खबर आ रही है कि जामिया में प्रदर्शन के दौरान दिल्ली पुलिस ने कोई गोली नहीं चलाई। इसके साथ ही जिन 10 लोगों को पुलिस ने इस मामले में गिरफ्तार किया है वह सभी आपराधिक पृष्ठभूमि से हैं। इनके अलावा कई और असामाजिक तत्वों की भी पहचान की जा रही है।

जांच में सामने आ सकते हैं बड़े नाम
पुलिस सूत्रों की ओर से जानकारी सामने आ रही है कि जांच में पुलिस को कुछ वाट्सएप ग्रुप मिले हैं जिनसे भड़काऊ संदेश इधर से उधर भेजे गए। साथ ही आगे जांच में कुछ बड़े नाम भी सामने आ सकते हैं जो हिंसा के लिए जिम्मेदार होंगे। पुलिस का मानना है कि हिंसा फैलाने के लिए पूरी साजिश रची गई।

*गिरफ्तार लोगों की आज दोपहर होगी कोर्ट में पेशी*
आज दोपहर में कोर्ट में पेश होंगे गिरफ्तार लोग। पुलिस का कहना है कि जल्द ही कुछ नई गिरफ्तारियां भी की जाएंगी। जिन दस लोगों की गिरफ्तारियां की गई हैं वह वीडियो फुटेज के आधार पर हैं।

*दिल्ली से नोएडा जाने वाले यात्री अपनाएं ये रूट*
मथुरा रोड होकर नोएडा जाने वाले यात्रियों के लिए यह एडवाइजरी जारी की गई है कि वह आश्रम चौक, डीएनडी या नोएडा लिंक रोड का इस्तेमाल करें। कालिंदी कुंज की ओर जाने वाला ओखला अंडरपास भी यातायात के लिए बंद है।
*मथुरा रोड से कालिंदी कुंज जाने वाला रास्ता है बंद*
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने प्रदर्शनों के चलते मथुरा रोड से कालिंदी कुंज जाने वाले रास्ते(रोड नं. 13A) यातायात के लिए बंद कर रखा है। नोएडा से आने वाले यात्रियों से निवेदन है कि वह दिल्ली आने के लिए डीएनडी या अक्षरधाम का इस्तेमाल करें।

*जामिया के बाद दिल्ली के सीलमपुर* में भी बवाल, तीन मेट्रो स्टेशन हुए बंद
*नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में दिल्ली के जामिया नगर इलाके में हुई हिंसा के मामले में दिल्ली पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने आपराधिक पृष्ठभूमि वाले 10 लोग गिरफ्तार किए हैं। मामले में किसी भी छात्र को गिरफ्तार नहीं किया गया है। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार इनकी गिरफ्तारी की है। *****************************

Check Also

फर्जी हाज़िरी लगाने में माहिर रोजगार सेवक हरदी

🔊 Listen to this निचलौल(महराजगंज) विकास खण्ड मिठौरा क्षेत्र के ग्राम सभा हरदी का हैं …