*कलश स्थापना कर मुख्यमन्त्री योगी आदित्य नाथ जी करेंगे 9 दिन नवरात्र व्रत*

रिपोर्टर रतन गुप्ता सोनौली /नेपाल Sat, 28 Sep 2019

*शारदीय नवरात्र की प्रतिपदा को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गोरखनाथ मंदिर के मठ के प्रथम तल पर स्थित शक्ति मंदिर में कलश की स्थापना कर 9 दिन व्रत रखेंगे। कलश स्थापना के साथ ही मॉ दुर्गा की पूजा का पारम्परिक अनुष्ठान शुरू हो जाएगा। प्रतिपदा के दिन मुख्यमंत्री लेहड़ा देवी एवं *तरकुलहा देवी का दर्शन पूजन भी करेंगे। योगी नव दिन के व्रत के दौरान सिर्फ फल और गाय के दूध का सेवन करते हैं।*

 मुख्यमंत्री नवरात्र के प्रथम दिन रविवार को *2.15 बजे गोरखनाथ मंदिर पहुंचेंगे। इसलिए कलश स्थापना अपराह्न 5 बजे होगी। इसके पूर्व मंदिर में भव्य कलश यात्रा निकाली जाएगी जिसकी अगुवाई मंदिर के *प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ करेंगे। इस कलश यात्रा में मंदिर परिवार के सभी पुजारी, महंत, वेद पाठी बालक आदि शामिल होंगे। वेद के मांगलिक मंत्रों के *उच्चारण के बीच निकाली गई यह शोभा यात्रा मुख्य मंदिर परिसर से निकल कर भीम सरोवर तक जाएगी। यहां कलश भरने के बाद शक्ति मंदिर में कलश यात्रा की स्थापना कर पूजा अर्चना किया जाएगा।*

 मुख्यमंत्री अगले दिन सोमवार की सुबह 10 बजे के करीब लखनऊ के लिए प्रस्थान कर जाएंगे। उधर उनकी अनुपस्थिति में भी प्रतिदिन गोरखनाथ मंदिर में नवमी तक श्रीमद्देवी भागवत की कथा एवं दुर्गा सप्तशती का पाठ शाम 4 बजे से 6 बजे तक आयोजित होगा। सीएम की अनुपस्थिति में मॉ दुर्गा की अराधना में प्रधान पुजारी योगी कमलनाथ शामिल होंगे।
अष्टमी की रात होगी महानिशा पूजा

5 अक्तूबर को अष्टमी होगी। मंदिर की परम्परा के मुताबिक मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 5 अक्तूबर की रात महानिशन पूजन और हवन शक्ति मंदिर में करेंगे। माना जा रहा है कि वे 5 की सुबह या 4 अक्तूबर की रात में ही मंदिर आ जाएंगे। क्योंकि इसी दिन गोरखनाथ मंदिर से संत शिरोमणि मोरारी बापू की रामकथा के लिए शोभायात्रा निकाली जाएगी, जिसकी अगुवाई सीएम योगी आदित्यनाथ करेंगे।
*नवमी को होगा कुमारी कन्या पूजन और भोज*

*7 अक्तूबर को महानवमी श्रद्धा के साथ मनाई जाएगी। इस दिन योगी 12 बजे से कन्या पूजन एवं कन्या भोज श्रद्धा पूर्वक संपंन करेंगे। कुवारी कन्याओं का पांव धोकर और वस्त्र प्रदान कर पूजा अर्चना करने के बाद सभी को अपने हाथों से भोजन कराएंगे।*
*विजयादशमी को श्रीनाथ जी का विशिष्ट पूजन*
Navratri 2019: 29 सितंबर से शुरु हो रहे हैं नवरात्र, इस बार हाथी पर सवार होकर आएंगी देवी, घोड़े पर होंगी विदा
8 अक्तूबर को विजयादशमी के दिन सुबह 9.25 बजे से मुख्यमंत्री मंदिर में श्रीनाथ जी की पूजा अर्चना करेंगे। इस दिन नाथ संप्रदायक के साधु संत और श्रद्धालु तिलक हाल में योगी आदित्यनाथ का तिलक करेंगे। यह कार्यक्रम अपराहन 1 बजे से 3 बजे तक चलेगा। अपराह्न 4 बजे से खुली जीप में सवार होकर योगी शोभा यात्रा के साथ श्री मानसरोवर मंदिर के लिए प्रस्थान करेंगे। जहां भगवान शंकर समेत सभी देवी देवताओं को पारम्परिक रूप से पूजन अर्चन करेंगे।
*विजयादशमी के दिन सीएम मानसरोवर रामलीला मैदान में पहुंच कर मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम का तिलक और आरती उतारेंगे। रावण बध के कार्यक्रम में शामिल होने के बाद शोभा यात्रा पुन: मंदिर वापस लौट आएगी। शाम 7 बजे से गोरखनाथ मंदिर में संतो, ब्राह्मणों एवं निर्धन नारायण के साथ सहभोज का कार्यक्रम आयोजित होगा। मुख्यमंत्री अगले दिन लखनऊ के लिए प्रस्थान करेंगे। गोरखनाथ मंदिर के प्रवक्ता विनय गौतम के मुताबिक नवरात्र में गोरक्षपीठाधीश्वर मंदिर से बाहर नहीं निकलते थे, लेकिन सीएम का दायित्व संभालने के बाद उन्होंने जनहित में इस परम्परा को तोड़ा। *********************************

Check Also

खबर को देख अधिकारी ने लिया संज्ञान होगी कार्यवाही

🔊 Listen to this निचलौल(महराजगंज)विकास खंड निचलौल क्षेत्र के ग्राम सभा विशुनपुरा में हो रहे …